राजीव गांधी किसान न्याय योजना list online

छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान योजना फॉर्म,  किसान न्याय योजना आवेदन, Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojna 2020 online

छत्तीसगढ़ के किसानों को धान की फसल का संपूर्ण लाभ पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के  सानिध्य से राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत की गई है| सन 2020 21 के बजट के दौरान प्रदेश वित्त मंत्री के द्वारा इस योजना का श्रीगणेश किया गया| इस स्कीम के अंतर्गत छत्तीसगढ़ कृषकों को धान समर्थन मूल्य के अंतर की राशि का फायदा उपलब्ध कराया जाएगा| आज के इस निबंध में हम आपको छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं अतः प्रिय पाठकों से निवेदन है की अंत तक इस निबंध को पढ़े|

Rajiv Gandhi Krishak Nyay Yojna
Rajiv Gandhi Krishak Nyay Yojna

Rajiv Gandhi Krishak Nyay Yojna

छत्तीसगढ़ प्रशासन की ओर से इस योजना के लिए 5100 करोड़ रुपए देने की घोषणा की गई है| प्रदेशभर की रिपोर्ट के पश्चात प्रदेशभर के मंत्रियों से सही जानकारी पाकर विधानसभा सत्र में इस राशि को बांटने का काम शुरू किया जाएगा | Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna से छत्तीसगढ़ किसानों को काफी लाभ होने वाला है इस योजना का लाभ पाने के इच्छुक किसान ऑफिशियल वेबसाइट पर अपना नाम आवेदित कर सकते हैं I

राजीव गांधी किसान न्याय योजना पंजीकरण तिथि , Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna online Registration

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत आप सन 2020 में अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं अन्यथा आप को इस योजना के तहत आप पाने के लिए अगले वर्ष तक प्रतीक्षा करनी होगी | योजनाओं से जुड़ी हुई सभी जानकारियां कृषि विकास किसान कल्याण विभाग के द्वारा सूचित कर दी गई है| नियमानुसार अब किसानों को अपनी फसलों का रजिस्ट्रेशन करवाना है तथा सभी पात्र किसानों को उनके बैंक अकाउंट में उचित धनराशि ट्रांसफर कर दी जाएगी नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग रहा  में धान तथा मक्का की पैदावार कि एमएसपी पर रजिस्ट्रेशन हो रहा है|

राजीव गांधी किसान न्याय योजना दिशा निर्देश,  Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna guidelines

  • जिन किसानों का रजिस्ट्रेशन पहले से हो चुका है उनका राजीव गांधी किसान योजना रजिस्ट्रेशन के लिए भी मान्य होगा|
  • धान तथा मक्का के अलावा दूसरी फसलों के लिए भी रजिस्ट्रेशन के लिए एक अलग पोर्टल की शुरुआत की जाएगी जिसमें एरिया वाइज फसलों का रजिस्ट्रेशन किया जाएगा
  • सबसे पहले किसानों को कृषि विस्तार ऑफिसर के द्वारा वेरिफिकेशन करवाना है इसके पश्चात किसी भी कोऑपरेटिव सोसाइटी में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना है|
  • फार्म में मांगे गए सभी कागजात जैसे आधार कार्ड नंबर बैंक की पासबुक तथा लोन बुक आदि की फोटो कॉपी अपने एप्लीकेशन फॉर्म के साथ संलग्न करनी है
  • इस स्कीम के तहत सिर्फ उन्हें फसलों का लाभ मिल सकता है जिनका जिगर राजीव गांधी किसान न्याय योजना दिशा निर्देशों में किया गया है
Rajiv Gandhi Krishak Nyay Yojna
Rajiv Gandhi Krishak Nyay Yojna

राजीव गांधी के सामने आई योजना तीसरी किस्त

मुख्यमंत्री श्री बघेल के द्वारा छत्तीसगढ़ के 21 वें स्थापना दिवस पर किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की तीसरी किस्त प्रदान करने की उद्घोषणा की गई|  प्रदेश के लगभग 18 लाख 38 हजार कृषक इस योजना से लाभान्वित होंगे| इस योजना के तहत अब तक 3000 करोड रुपए की दो किस्तों का भुगतान हो चुका है यह राशि सीधा किसानों के बैंक खाते में दी जाती है | योजना के अनुसार किसानों को कुल 4 किससे मिलने वाले हैं जिसमें लगभग 5750 करोड रुपए किसानों को दिया जाना है| इस योजना के तहत छोटे तथा सीमांत किसानों के साथ-साथ बड़े किसानों को भी फायदा दिया जा रहा है कुल 95553 एक सीमांत किसान , 56 1523 छोटे किसान तथा 32 1538 मंझले किसानों को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जा रहा है|

राजीव गांधी किसान न्याय योजना स्टेटस, Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojna 2020 online

राजीव गांधी के सामने आए योजना के तहत छत्तीसगढ़ के किसानों को दो किस्तों में लगभग 5700 करोड रुपए की राशि दी जानी थी परंतु मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्तमान जानकारी देते हुए बताया कि अब इस राशि को बढ़ाकर 5750 रुपए कर दिया गया है क्योंकि 19 लाख किसानों  धान की फसल हेतु ₹10000 प्रति एकड़ तथा गन्ने की फसल हेतु ₹13000 प्रति एकड़ के हिसाब से धनराशि दी जा रही है | योजना के तहत 19 लाख किसानों को 1500 करोड रुपए की धनराशि सीधे उनके बैंक अकाउंट में दी गई है |

Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna बजट 2020-21 की नई घोषणा

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का जिक्र राहुल गांधी ने भी अपने कई भाषाओं में किया है तथा उन्होंने यह बताया कि इस योजना के अनुसार किसान मजदूरों तथा श्रमिकों को भी लाभान्वित किया गया है | छत्तीसगढ़ के लगभग 1700000 किसानों का कर्ज माफ कर दिया गया है| छत्तीसगढ़ की में 60% जीडीपी की बढ़ोतरी हुई है तथा किसानों के लिए प्रदेश सरकार की ओर से भरसक प्रयत्न किए जा रहे हैं ताकि उन्हें एक आत्मनिर्भर सफल तथा स्वावलंबी जीवन यापन का अवसर मिले

Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna 2020

सन 2020 में लॉकडाउन के चलते पूरे देश के किसानों की  आर्थिक स्थिति डगमगा सी गई है ऐसे में  छत्तीसगढ़ के किसानों को पंद्रह सौ करोड़ रुपए की राशि एक किस्त में ही दे दी गई है साथ ही साथ देने का  समर्थन मूल्य ₹261 प्रति क्विंटल दिया गया है साथ ही प्रोत्साहन राशि ₹93 75 पैसे प्रति क्विंटल दी गई है यानी ₹355 प्रति क्विंटल के हिसाब से किसानों को सहायता पहुंचाई गई है | यहां हम आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि मनरेगा के आधार पर भी राज्य में लगभग 2300000 नागरिकों को रोजगार दिलवाया गया है| वन उपज को 7% से बढ़ाकर 25% कर दिया गया है महुआ के फूल जिन का समर्थन मूल्य ₹10 प्रति किलो था में ₹13 प्रति किलो का इजाफा दिया गया है अर्थात सरकार के द्वारा यह ₹30 प्रति किलो के हिसाब से खरीदे गए हैं|

राजीव गांधी किसान या योजना का लाभ, Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna 2020 benifits

  • किसानों की आय में वृद्धि
  • किसानों के द्वारा धान की उपज को बढ़ावा देना
  • धान के अतिरिक्त गन्ना मक्का की फसलों को भी प्रोत्साहन देना
  • भूमिहीन किसानों को भी इस योजना में लाभान्वित करने का प्रोग्राम बनाया जा रहा है
  • इस स्कीम का लाभ केवल छत्तीसगढ़ किसानों के लिए है
  • प्रदेश के किसानों को आत्मनिर्भर बनाना मैं कर्ज से मुक्त करना

CG Rajiv Gandhi kisan Nyay scheme documents

  • इस योजना का लाभ केवल किसान ही ले सकते हैं
  • छत्तीसगढ़ के छोटे किसान सीमांत किसान ,मंझले किसान में श्रमिक किसान मजदूर इस योजना के लाभ के पात्र है
  • लाभार्थी किसान का आधार कार्ड आवास प्रमाण पत्र तथा मोबाइल नंबर होना आवश्यक है
  • पहचान पत्र के साथ ही लाभार्थी का बैंक अकाउंट नंबर चाहिए होता है ताकि बैंक में सीधा डीबीटी DBT करवाया जा सके
  • पासपोर्ट साइज  तस्वीर तथा मोबाइल नंबर

राजीव गांधी किसान या योजना आवेदन किस प्रकार से करें, How to apply in Rajiv Gandhi kisan Nyay yojna

राजीव गांधी किसान न्याय योजना की घोषणा चुनावों के समय में हो चुकी है परंतु अभी तक इस योजना का क्रियान्वयन नहीं हो पाया है 21 मई से इस योजना के तहत आवेदन की शुरुआत हो चुकी है तथा आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों ही प्रकार से आवेदन कर सकते हैं| परंतु सरकार ने अभी तक इसके लिए किसी निश्चित वेबसाइट की व्यवस्था नहीं की है जैसे ही किसी वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन आवेदन की शुरुआत होगी हम अपने आर्टिकल के द्वारा आपको जल्द से जल्द सूचित करेंगे I

Leave a Comment